कोरोना लॉकडाउन के बीच CISCE की बड़ी पहल, TV से इस तरह कराएंगे स्टूडेंट्स की पढ़ाई


CISCE अब स्टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ाएगा.

नई दिल्ली:

Coronavirus: कोरोनावायरस महामारी के चलते सभी स्कूल लंबे समय से बंद हैं. स्कूल बंद होने से स्टूडेंट्स की पढ़ाई का काफी नुकसान हो रहा है, जिसे ध्यान में रखकर कई राज्यों ने स्टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ाने का अभियान शुरू कर दिया है. अब काउंसिल फॉर इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन (CISCE) बोर्ड ने भी स्टूडेंट्स के हित में एक बड़ा फैसला किया है. CISCE अब स्टूडेंट्स को टेलीविजन के माध्यम से पढ़ाएगा. बोर्ड ने एबीपी आनंद टेलीविजन चैनल के साथ साझेदारी की है, जिसके माध्यम से स्टूडेंट्स को पढ़ाया जाएगा. CISCE बोर्ड 9वीं क्लास से 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स को इंग्लिश, मैथमेटिक्स और साइंस पढ़ाएगा. 

स्टूडेंट्स के लिए 11 और 12 अप्रैल को दोपहर में परिचयात्मक सेशन रखे गए. अगर इस पहल में ज्यादा से ज्यादा स्टूडेंट्स पार्टिसिपेट करते हैं तो भविष्य में और स्लॉट जोड़े जाएंगे. बता दें कि लॉकडाउन के दौरान स्टूडेंट्स को इस तरह से पढ़ाने वाला CISCE ही एकमात्र बोर्ड नहीं है. कई राज्यों के बोर्ड ने स्टूडेंट्स को ऑनलाइन पढ़ाने के लिए अपनी खुद की ऐप लॉन्च की है या फिर एड-टेक स्टार्टअप के साथ भागीदारी करके पढ़ाने का काम शुरू किया है. 

MHRD लगातार शिक्षण संस्थानों को स्टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए SWAYAM पोर्टल और SWAYAM प्रभा चैनलों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित कर रहा है. बता दें SWAYAM Prabha चैनल Dish TV, Jio TV ऐप, Airtel DTH और Tata Sky पर उपलब्ध है. 

देश में लॉकडाउन आगे बढ़ाया जा सकता है. ऐसे में स्टूडेंट्स को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए पढ़ाना एक बेहतरीन विकल्प है. लेकिन उन स्टूडेंट्स को काफी मुश्किलें आ रही हैं, जो दूरदराज क्षेत्रों में रहते हैं और जिनके पास कनेक्टिविटी या डिजिटल शिक्षा के साधन नहीं हैं. 



News Collected From

Leave a Reply

Your email address will not be published.