नाराजगी: सामाजिक संगठनों, पत्रकारों व आरटीआई एक्टिविस्ट पर दर्ज किए जा रहे झूठे मुकदमे को लेकर नाराजगी


फरीदाबाद5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

कहा, पॉवर का इस्तेमाल करके लोकतंत्र की आवाज दबाने की हो रही साजिश।

शहर में लगातार पत्रकारों, सामाजिक संस्थाओं एवं आरटीआई कार्यकर्ताओं पर हो रहे अत्याचार को लेकर सेव फरीदाबाद संस्था ने नाराजगी जाहिर की और जिला व पुलिस प्रशासन से इस पर लगाम लगाने की मांग की है।

बुधवार को गोल्फ क्लब में आयाेजित प्रेसवार्ता में संस्था के संयोजक पारस भारद्वाज, वरिष्ठ अधिवक्ता ओपी शर्मा, डॉक्टर विंध्या गुप्ता आदि ने कहा कि एक निजी अस्पताल संचालक द्वारा साजिश के तहत शहर के एक पत्रकार के खिलाफ झूठा केस दर्ज कराया है। पत्रकारों के आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है। क्योंकि मीडिया लगाकर इनके अनैतिक कामों केा उजागर कर रहा है।वरिष्ठ अधिवक्ता ऑफिस शर्मा ने कहा कि कानून व्यवस्था का लगातार ह्रास हो रहा है। कुछ दलाल किस्म के लोग एवं कॉर्पोरेट घराने कानून व्यवस्था को भी खरीदने से नहीं हिचकिचाते। उन्होंने कहाकि सेव फरीदाबाद संस्था किसी भी तरह कि कानूनी, शारीरिक एवं मानसिक सहायता उपलब्ध कराने को तैयार है। किसी को मनमानी नहीं करने दिया जाएगा। प्रेसवार्ता में वरुण श्योकंद, केएल गेरा आदि मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं…



News Collected From www.bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.