अनहोनी टली: पानी में डूबने लगी डॉक्टर की कार, छत तक आ गया पानी, पुलिस से मांगी मदद, तीन मिनट में पहुंचकर बचाई जान


  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Faridabad
  • Doctor’s Car Started Drowning In Water, Water Reached The Roof, Sought Help From Police, Saved Life By Reaching In Three Minutes

फरीदाबाद6 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

मैनपुरी यूपी से आ रहे थे फरीदाबाद, रास्ता भटकने के कारण पहुंच गए बाईपास रोड।

अभी तक आपने पुलिस की लाख बुराईयां सुनी होगी लेकिन जिले में दो दिन से हो रही मूसलाधार बारिश में पुलिस कई लोगों के लिए दूत बनकर सामने आए हैं। ऐसा ही एक मामला सराय ख्वाजा थानाक्षेत्र में देखने को मिला। पानी में डूब रहे डॉक्टर को बड़ी मुश्किल से बाहर निकालकर उनकी जांच बचाई। डॉक्टर यूपी के मैनपुरी से दिल्ली दो महीने बाद आ रहे थे। वह बाईपास रोड पर गलती से साइड में उतर गए थे। कार पूरी छत तक डूब चुकी थी। सूचना मिलने के महज तीन मिनट में ही सरायख्वाजा और पल्ला पुलिस की टीम मौके पर पहुंचकर उन्हें रेस्क्यू किया और जेसीबी से कार बाहर निकासी। पुलिस कमिश्नर विकास अरोड़ा ने दोनों थाना प्रभारियों की हौसला अफजाई की है।

जानकारी के अनुसार मूलरूप से यूपी के मैनपुरी निवासी डॉ. अरविंद कुमार पांडेय यहां पल्ला क्षेत्र के सूर्या विहार पार्ट थ्री में रहते हैं। करीब दो महीने बाद वह गुरुवार की शाम कार से मैनपुरी से फरीदाबाद आ रहे थे। रात करीब आठ बजे वह बाईपास निकल रहे थे। रास्ता भटकने के कारण उनकी कार दिल्ली वडोदरा मुंबई एक्सप्रेसवे के लिए बनाए जाने वाले पीलरबेस में भरे पानी मंे समां गई। देखते ही देखते कार की छत तक पानी भर गया। किसी तरह गेट खोलकर वह कार की छत पर पहुंच गए और पुलिस को फोनकर मदद मांगी।

तीन मिनट में पहुंच कर बचाई जान

पुलिस को सूचना मिलते ही थाना सराय से हवलदार नरेंद्र और एसआई भगवान थाना प्रभारी की गाड़ी लेकर मात्र 3 मिनट में घटनास्थल पर पहुंच गए। दोनों पुलिसकर्मियों ने रस्सी के जरिए डॉक्टर का बाहर निकालने में कामयाब हो गए। इसके बाद पल्ला पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस टीम ने जेसीबी बुलवाकर डॉक्टर की गाड़ी को बाहर निकाला। पुलिस आयुक्त विकास अरोड़ा ने पुलिसकर्मियों की हौसलाअफजाई की और उन्हें प्रशंसा पत्र देने की घोषणा की।

खबरें और भी हैं…



News Collected From www.bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.