गहलोत-पायलट में फिर टकराव: राहुल की यात्रा की तैयारियों पर हुई मीटिंग में दूर-दूर बैठे; सुशांत की एक्स मैनेजर दिशा की हत्या नहीं हुई थी


  • Hindi News
  • National
  • Dainik Bhaskar News Headlines; Ashok Gehlot Sachin Pilot, Sushant Singh Rajput Manager Disha Salian

2 घंटे पहलेलेखक: शुभेंदु प्रताप भूमंडल, न्यूज ब्रीफ एडिटर

नमस्कार,

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी एक तरफ देशभर में भारत जोड़ो यात्रा पर निकले हुए हैं। वहीं दूसरी ओर राजस्थान में पार्टी के बड़े नेताओं में टकराव की स्थिति खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। राहुल अपनी ऐतिहासिक यात्रा के साथ 3 दिसंबर को राजस्थान में होंगे। लेकिन पार्टी के सीनियर नेताओं के बीच तल्खी बनी हुई है।

ताजा मामला भारत जोड़ो यात्रा की तैयारियों को लेकर है। बुधवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यात्रा को लेकर पार्टी नेताओं की मीटिंग बुलाई थी। इसमें गहलोत के धुर विरोधी सचिन पायलट समेत कई नेता शामिल हुए। मीटिंग के दौरान गहलोत और पायलट एक-दूसरे से काफी दूर-दूर बैठे। इतना ही नहीं दोनों के बीच कोई बातचीत भी नहीं हुई।

सबसे बड़ा वाकया तो ये हुआ कि गहलोत मीटिंग ले रहे थे, लेकिन पायलट बिना कुछ बताए बैठक से आधे घंटे पहले निकल गए। बता दें कि हाल ही में वरिष्ठ नेता अजय माकन ने पार्टी के प्रदेश प्रभारी पद से इस्तीफा दे दिया था। माकन 25 सितंबर को कांग्रेस विधायक दल की बैठक का बहिष्कार करने के जिम्मेदार गहलोत समर्थक विधायकों पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज थे।

सुशांत सिंह राजपूत की एक्स मैनेजर दिशा सालियान की मौत को लेकर नई बात सामने आई है। सूत्रों के मुताबिक, जांच एजेंसी का दावा है कि दिशा की हत्या नहीं हुई थी। वे नशे की हालत में बैलेंस बिगड़ने से 14वीं मंजिल से गिर गईं थीं। उनकी हत्या के कोई सबूत नहीं मिले हैं। ये महज एक हादसा था। बता दें कि दिशा की मौत 8 जून 2020 की रात को बिल्डिंग की छत से गिरने से हुई थी।

इस घटना के छह दिन बाद यानी 14 जून 2020 को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने भी आत्महत्या कर ली थी। इन दोनों मौतों के बाद बॉलीवुड में नेपोटिज्म, ड्रग्स जैसी बातों पर चर्चा शुरू हुई थी। भाजपा ने मामले की जांच CBI से करवाने की मांग की थी। जिसके बाद दोनों केस की जांच CBI कर रही है। हालांकि दिशा केस में जांच एजेंसी क्लोजर रिपोर्ट सौंपेगी या नहीं, ये साफ नहीं है।

आज के प्रमुख इवेंट्स, जिन पर होगी नजर

  • जेल में बंद सत्येन्द्र जैन की याचिका पर दिल्ली कोर्ट में सुनवाई होगी।
  • 6 लोगों की मौत के बाद मेघालय के प्रतिनिधि गृह मंत्री शाह से मिलेंगे।
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात में 4 चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगे।

5 बड़ी खबरें, जो आपको अपडेट रखेंगी…

1. सुशांत की एक्स मैनेजर की हत्या नहीं हुई थी, दिशा सालियान नशे में 14वीं मंजिल से गिरी थीं

दिशा सालियान की मौत 8 जून 2020 की रात को बिल्डिंग की छत से गिरने से हुई थी। इस घटना के छह दिन बाद 14 जून को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ने भी आत्महत्या कर ली थी।

सुशांत सिंह राजपूत की एक्स मैनेजर दिशा सालियान की मौत पर CBI ने बड़ा खुलासा किया है। जांच एजेंसी का दावा है कि दिशा की हत्या नहीं हुई थी। वे नशे की हालत में बैलेंस बिगड़ने से 14वीं मंजिल से गिर गईं थीं। उनकी हत्या के कोई सबूत नहीं मिले हैं। ये महज एक हादसा था। दिशा की मौत 8 जून 2020 की रात को बिल्डिंग की छत से गिरने से हुई थी। इस घटना के छह दिन बाद 14 जून को सुशांत सिंह राजपूत ने भी आत्महत्या कर ली थी। इसके बाद इन दोनों मौतों को लेकर काफी विवाद हुआ था। इसके बाद सुशांत केस के साथ ही CBI दिशा मामले की भी जांच कर रही थी। CBI ने दोनों मौतों के कनेक्शन को लेकर भी इनकार किया था। पढ़ें पूरी खबर…

2. पायलट-गहलोत में फिर दिखा टकराव, राहुल की यात्रा की तैयारियों पर हुई मीटिंग में दूर-दूर बैठे

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 3 दिसंबर को राजस्थान आने वाली है। बुधवार को तैयारियों को लेकर मीटिंग बुलाई गई थी। पायलट मीटिंग खत्म होने से आधे घंटे पहले ही निकल गए।

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा 3 दिसंबर को राजस्थान आने वाली है। बुधवार को तैयारियों को लेकर मीटिंग बुलाई गई थी। पायलट मीटिंग खत्म होने से आधे घंटे पहले ही निकल गए।

राजस्थान के CM अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच की तल्खी खत्म नहीं हो रही है। राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा से पहले एक बार फिर दोनों दिग्गज नेताओं की दूरी बुधवार को दिखी। राहुल 3 दिसंबर को भारत जोड़ो यात्रा लेकर राजस्थान आने वाले हैं। तैयारियों को लेकर बुलाई गई बैठक में गहलोत और पायलट दूर-दूर बैठे दिखे। दोनों में बात भी नहीं हुई। इतना ही नहीं, सचिन पायलट मीटिंग खत्म होने से 30 मिनट पहले ही वहां से चले गए। राजस्थान में 25 सितंबर को हुए सियासी बवाल के बाद पहली बार दोनों नेता किसी इवेंट में एक साथ पहुंचे थे। बता दें कि हाल ही में प्रदेश प्रभारी अजय माकन ने भी अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। पढ़ें पूरी खबर…

3. प्रेमी ने प्रेमिका के शव से शादी की; मांग में सिंदूर भरा, फिर माला पहनाकर माथा चूम लिया

27 साल का बिटुपन तमुली और 24 साल की प्रार्थना बोरा जल्द ही शादी करने वाले थे, लेकिन इसी बीच प्रार्थना बीमार पड़ गई। इलाज के दौरान 18 नवंबर को प्रार्थना की मौत हो गई।

27 साल का बिटुपन तमुली और 24 साल की प्रार्थना बोरा जल्द ही शादी करने वाले थे, लेकिन इसी बीच प्रार्थना बीमार पड़ गई। इलाज के दौरान 18 नवंबर को प्रार्थना की मौत हो गई।

असम के मोरीगांव में अनोखी शादी ने देखने वालों को भावुक कर दिया। यहां एक लड़के ने प्रेमिका की मौत हो जाने पर उसके शव से शादी रचाई। मामले का वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें दिखाई दे रहा है कि लड़के ने शव के माथे पर सिंदूर लगाया। इसके बाद उसे सफेद माला पहनाई और उसकी तरफ से भी एक माला अपने गले में डाली। इसके बाद झुककर उसने प्रेमिका के माथे को चूम लिया। लड़के ने यह कसम भी खाई कि वह जिंदगीभर किसी और से शादी नहीं करेगा। हालांकि परिवार इसके खिलाफ था, लेकिन प्रेमी ने जब लड़की की आखिरी इच्छा उन्हें बताई तो वे इससे इनकार नहीं कर सके। लड़की के भाई ने भी अपनी बहन को खुशकिस्मत बताया। पढ़ें पूरी खबर…

4. श्रद्धा ने 2 साल पहले की थी पुलिस से शिकायत, कहा था- आफताब मेरे टुकड़े कर डालेगा​​​​​

श्रद्धा ने 23 नवंबर 2020 को मुंबई की पालघर पुलिस को एक शिकायत पत्र लिखा था। उसने बताया था कि लिव-इन पार्टनर आफताब उसे मारता-पीटता है। उसने कार्रवाई की मांग की थी।

श्रद्धा ने 23 नवंबर 2020 को मुंबई की पालघर पुलिस को एक शिकायत पत्र लिखा था। उसने बताया था कि लिव-इन पार्टनर आफताब उसे मारता-पीटता है। उसने कार्रवाई की मांग की थी।

श्रद्धा मर्डर केस में बुधवार को सबसे चौंकाने वाली जानकारी सामने आई है। श्रद्धा ने आफताब के हिंसक बर्ताव के बारे में 2 साल पहले ही मुंबई पुलिस से शिकायत की थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, श्रद्धा ने 23 नवंबर 2020 को मुंबई की पालघर पुलिस को एक शिकायत पत्र लिखा था। उसने पुलिस को बताया था कि उसका लिव-इन पार्टनर आफताब उसे मारता-पीटता है। अगर वक्त पर एक्शन नहीं लिया, तो आफताब उसके टुकड़े-टुकड़े कर डालेगा। इधर, इन दावों के बीच महाराष्ट्र पुलिस ने कहा कि श्रद्धा की शिकायत पर तब जरूरी एक्शन लिया गया था। बाद में उसने लिखकर दे दिया कि हमारे बीच सुलह हो गई है। इसके बाद केस बंद कर दिया गया था। पढ़ें पूरी खबर…

5. विक्रम गोखले की मौत की खबरों को बेटी ने अफवाह बताया, कहा- उनके लिए दुआ कीजिए

टेलीविजन में भी विक्रम गोखले ने एक अलग पहचान बनाई थी। दूरदर्शन पर 1989 से लेकर 1991 के बीच आने वाले फेमस शो 'उड़ान' का वो हिस्सा थे।

टेलीविजन में भी विक्रम गोखले ने एक अलग पहचान बनाई थी। दूरदर्शन पर 1989 से लेकर 1991 के बीच आने वाले फेमस शो ‘उड़ान’ का वो हिस्सा थे।

दिग्गज एक्टर विक्रम गोखले की हालत गंभीर बनी हुई है। बुधवार देर रात उनके निधन की खबरें सामने आई थीं। गुरुवार सुबह करीब 4 बजे उनकी बेटी ने इन खबरों को अफवाह बताया। विक्रम की बेटी ने कहा, पिता की हालत गंभीर है। डॉक्टर उनका इलाज कर रहे हैं। आप भी उनके जल्दी स्वस्थ्य होने की दुआ कीजिए। विक्रम गोखले पिछले 16 दिनों से हॉस्पिटलाइज हैं। गोखले संजय लीला भंसाली की फिल्म ‘हम दिल दे चुके सनम’ में ऐश्वर्या के पिता के रोल में नजर आए थे। गोखले मराठी थिएटर, हिन्दी सिनेमा और टेलीविजन में काफी एक्टिव थे। वो फिल्म एक्टर चंद्रकांत गोखले के बेटे थे। विक्रम गोखले की दादी कमलाबाई गोखले इंडियन सिनेमा की पहली फीमेल चाइल्ड आर्टिस्ट थीं। पढ़ें पूरी खबर…

कुछ अहम खबरें हेडलाइन में…

  1. जेल में लजीज खाने का लुत्फ उठाते दिखे सत्येंद्र जैन, कोर्ट से कहा था- अच्छे भोजन की सुविधा नहीं, 28 किलो वजन घटा (पढ़ें पूरी खबर)
  2. टी-20 रैंकिंग में सूर्यकुमार यादव नंबर-1 पर कायम; ताजा रैंकिंग में 890 पॉइंट्स के साथ टॉप पर, विराट दो स्थान लुढ़के (पढ़ें पूरी खबर)
  3. सूरत के कॉलेज में लव-जिहाद को लेकर मारपीट, VHP कार्यकर्ताओं ने मुस्लिम स्टूडेंट्स को कैंपस में दौड़ा-दौड़ाकर पीटा (पढ़ें पूरी खबर)
  4. श्रीनगर में -0.8 डिग्री पहुंचा टेंपरेचर; जम्मू-कश्मीर के उत्तरी पहाड़ी शहरों में माइनस में, एक हफ्ते तक रहेंगे ये हालात (पढ़ें पूरी खबर)
  5. कोरोना पाबंदियों के चलते चीन के आईफोन प्लांट में हिंसा, गार्ड्स-वर्कर्स भिड़े; कर्मचारी खाना-दवा और सैलरी को लेकर नाराज (पढ़ें पूरी खबर)

असम के CM ने गुजरात की चुनावी रैली में कहा- ये ‘कांग्रेस के एक नेता सद्दाम हुसैन की तरह दिखने लगे हैं। पढ़ें पूरी खबर…

खबर लेकिन कुछ हटके…

दिल्ली में ऑटो चलाकर ऑफिस जाती हैं अमेरिकी डिप्लोमैट, बुलेटप्रूफ गाड़ियां छोड़ीं​​​​​

10 साल पहले मैक्सिकन एंबेसडर ने भी एक सफेद रंग का ऑटो रखा था। उनका ड्राइवर भी था। अमेरिकी डिप्लोमैट्स ने ऑटो में ब्लूटूथ डिवाइस और टाइगर प्रिंट वाले पर्दे भी लगाए हैं।

10 साल पहले मैक्सिकन एंबेसडर ने भी एक सफेद रंग का ऑटो रखा था। उनका ड्राइवर भी था। अमेरिकी डिप्लोमैट्स ने ऑटो में ब्लूटूथ डिवाइस और टाइगर प्रिंट वाले पर्दे भी लगाए हैं।

दिल्ली स्थित अमेरिकी एंबेसी की 4 महिला अधिकारी ऑटो चलाकर ऑफिस जाती हैं। खास बात ये है कि इन्होंने सरकार से मिलीं बुलेट प्रूफ गाड़ियां भी छोड़ दी हैं। एनएल मेसन, रुथ होल्म्बर्ग, शरीन जे किटरमैन और जेनिफर बायवाटर्स का कहना है कि ऑटो चलाना मजेदार ही नहीं, बल्कि यह एक मिसाल है कि अमेरिकी अधिकारी भी आम लोगों की तरह ही हैं। पढ़ें पूरी खबर…

खबरें जो सबसे ज्यादा पढ़ी गईं…

फोटो जो खुद में खबर है…

अर्जेंटीना के बाद अब 4 बार की वर्ल्ड चैंपियन जर्मनी उलटफेर का शिकार, 24वीं रैंक जापान ने ग्रुप E में हराया​​​​​​

4 बार की वर्ल्ड चैंपियन जर्मनी को फीफा वर्ल्ड कप 2022 के ग्रुप स्टेज में उलटफेर का सामना करना पड़ा। उन्हें ग्रुप E के मैच में जापान ने 2-1 से हरा दिया। फर्स्ट हाफ में पेनाल्टी से गोल करने के बाद जर्मनी मजबूत स्थिति में था, लेकिन सेकेंड हाफ में जापान ने वापसी की और 8 मिनट में 2 गोल दागकर मैच 2-1 से जीत लिया। इस वर्ल्ड कप में यह दूसरा बड़ा उलटफेर है। मंगलवार को सऊदी अरब ने 2 बार की वर्ल्ड चैंपियन अर्जेंटीना को 2-1 से हराया था। पूरी खबर पढ़ें…

आज के दिन इतिहास में क्या हुआ था…

चार्ल्स डार्विन की किताब पब्लिश हुई, दुनिया को पता चला कि कैसे बंदर से इंसान बने हम
आज ही के दिन यानी 24 नवंबर 1859 को डार्विन की किताब ‘ऑन द ओरिजन ऑफ स्पेशीज बाय मीन्स ऑफ नेचुरल सिलेक्शन’ पब्लिश हुई थी। इस किताब में एक चैप्टर था, थ्योरी ऑफ इवोल्यूशन। इसी में बताया गया था कैसे हम बंदर से इंसान बने। डार्विन का मानना था कि हम सभी के पूर्वज एक हैं। उनकी थ्योरी थी कि हमारे पूर्वज बंदर थे। कुछ बंदर अलग जगह अलग तरह से रहने लगे, इस कारण धीरे-धीरे जरूरतों के अनुसार उनमें बदलाव आने शुरू हो गए। उनमें आए बदलाव उनके आगे की पीढ़ी में दिखने लगे। उन्होंने समझाया था कि ओरैंगुटैन (बंदरों की एक प्रजाति) का एक बेटा पेड़ पर, तो दूसरा जमीन पर रहने लगा। जमीन पर रहने वाले बेटे ने खुद को जिंदा रखने के लिए नई कलाएं सीखीं। उसने खड़ा होना, दो पैरों पर चलना, दो हाथों का उपयोग करना सीखा। पेट भरने के लिए शिकार करना और खेती करना सीखा। इस तरह ओरैंगुटैन का एक बेटा बंदर से इंसान बन गया। हालांकि, ये बदलाव एक-दो सालों में नहीं आया बल्कि इसके लिए करोड़ों साल लग गए।

कन्या राशि के नौकरीपेशा लोगों को मन मुताबिक ट्रांसफर मिल सकता है और कर्क राशि वालों को तरक्की मिलने की संभावना है। आप भी जानिए अपना राशिफल…

आपका दिन शुभ हो, पढ़ते रहिए दैनिक भास्कर ऐप…

मॉर्निंग न्यूज ब्रीफ को और बेहतर बनाने के लिए हमें आपका फीडबैक चाहिए। इसके लिए यहां क्लिक करें…

खबरें और भी हैं…



News Collected From
www.bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.