नशे की लत में माता-पिता समेत 4 की हत्या: परिवार ने नशा मुक्ति केंद्र भेजा था, लौटते ही माता-पिता, बहन और दादी को मारा


  • Hindi News
  • National
  • Delhi Family Member Murder Mystery; Keshav Kills Mother, Father, Sister | Delhi News

नई दिल्लीएक मिनट पहले

दिल्ली के पालम इलाके में एक व्यक्ति ने अपने परिवार के चार लोगों की हत्या कर दी। घटना मंगलवार की रात साढ़े दस बजे की है। आरोपी का नाम केशव है और वह नशे का आदी है। परिवार ने उसे नशामुक्ति केंद्र भेजा था। वहां से लौटने के बाद भी उसकी लत नहीं छूटी। वह नशे के लिए परिवार से पैसे मांगता रहता था।

मंगलवार को भी उसने नशे के लिए पैसे मांगे थे। जब घरवालों ने पैसे देने से मना कर दिया तो उसने परिवार के लोगों की हत्या करने का फैसला कर लिया। घर के चारों सदस्यों को घर सभी को अलग-अलग कमरे में ले जाकर उनकी हत्या कर दी। हत्या के बाद आरोपी भागने की फिराक में था, लेकिन उसके चचेरे भाई ने उसे पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। मृतकों की पहचान पिता दिनेश, मां दर्शना, बहन उर्वशी और दादी दीवाना देवी के रूप में हुई है।

पुलिस को दो लाशें वॉशरूम में मिली हैं। फर्श में चारों तरफ ब्लड दिख रहा है। महिला के पेट में बड़ा घाव दिख रहा है। ऐसा लग रहा है, जैसे चाकू से लगातार हमला किया गया है।

बहन की चीख सुनकर पहुंचा चचेरा भाई
आरोपी केशव को पकड़ने वाले उसके चचेरे भाई ने बताया कि उसने रात में बहन के चीखने की आवाज सुनी थी। उसमें वह बचाने की गुहार लगा रही थी। जब वह कुछ लोगों के साथ पहुंचा, तो आरोपी के घर का दरवाजा बंद था। जब उसने दरवाजा खटखटाया तो आरोपी बोला कि ये हमारा फैमिली मैटर है।

बेडरूम में खून से लथपथ एक शव मिला। माना जा रहा है कि आरोपी ने अलग-अलग कमरे में ले जाकर परिवार वालों की हत्या की है।

बेडरूम में खून से लथपथ एक शव मिला। माना जा रहा है कि आरोपी ने अलग-अलग कमरे में ले जाकर परिवार वालों की हत्या की है।

इस पर लोगों ने कुछ देर तक इंतजार किया, लेकिन अचानक आरोपी भागने लगा, तो लोगों ने उसे पकड़ लिया। जब लोग घर के अंदर गए तो देखा कि घर का फर्श खून से लथपथ था। आसपास चार लाशें पड़ी हुई थीं। ये लाशें आरोपी के माता-पिता, बहन और दादी की थीं।

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस मामले में आगे की जांच कर रही है।

सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस मामले में आगे की जांच कर रही है।

एक महीने पहले छोड़ दी थी नौकरी
केशव की पक्की नौकरी नहीं थी। पुलिस ने कहा कि वह गुड़गांव की एक कंपनी में काम करता था। एक महीने पहले ही उसने नौकरी छोड़ दी थी। इसके बाद से ही परिवार वालों के साथ पैसे को लेकर झगड़ा करता था।

खबरें और भी हैं…



News Collected From
www.bhaskar.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.